बहरेपन की वजह और इलाज समझने से पहले हमारा यह जानना जरुरी है की बहरापन क्या है? कोई भी बात कान से कम सुनाई देना या बिलकुल नहीं सुनाई देना बहरापन कहलाता है | उदाहरण के लिए मान लीजिये की यदि कोई व्यक्ति आपसे बात कर रहा है और आपको सुनाई नहीं देता है तो आप उसे थोड़ा ऊंचा बोलने को कहते है, पर उसके बाद भी आपको बातें स्पष्ट नहीं हो रही है तो ये बहरेपन के शुरूआती लक्षण हो सकते है | अगर समय पर इसका इलाज न किआ जाए तो ये गंभीर समस्या बन जाती है और बहरेपन से पीड़ित व्यक्ति कभी-कभी दूसरों की बातें समझने में अक्षम होता है जिससे कभी कभी उसे शर्मिंदगी का सामना भी करना पड़ता है | ऐसे कई लोग है जो बहरेपन से पीड़ित है और ऐसी समस्याओं का सामना करते है, वे लोग अपने आप को दूसरों से अलग मानते है, पर हमारा यह कर्त्तव्य बनता है की हमें उन्हें समझाना चाहिए कि आप एक स्वस्थ व्यक्ति से अलग नहीं है और उन्हीं के जैसे है | ऐसा बिलकुल नहीं है की इस समस्या का कोई इलाज नहीं किआ जा सकता, आजकल बहरेपन के इलाज के लिए नयी नयी तकनीकि विकसित हो चुकी है | आइये अब हम बहरेपन की वजह और उसके इलाज पर एक नजर डालते है |

बहरेपन की वजह

बहरेपन की वजह के कारण निम्नलिखित है :-

  • बहुत तेज आवाज या शोरगुल |
  • उम्र का बढ़ना बहरेपन की वजह का मुख्य कारण है |
  • कई बार बीमारियों से भी सुनने की श्रमता कम हो जाती है| बीमारियां जैसे मधुमेह, खसरा आदि बीमारियां भी सुनने की श्रमता को प्रभावित कर सकती है |
  • शोर वाली जगह पे ज्यादा समय तक रहने से आपके कानो को भरी नुक्सान हो सकता है, शोर आपके कान की आंतरिक कोशिकाओं को कमजोर बना सकता है |
  • विस्फोट होने से उठने वाले शोर में व्यक्ति पूरी तरह से बहरा भी हो सकता है अगर वो दुर्घटनास्थल के बहुत करीब हो |
  • कभी कभी कुछ बीमारियों से भी बहरेपन की सम्भावना हो सकती है, जैसे तेज बुखार से भी बहरापन हो सकता है |

बहरेपन के लक्षण

बहरेपन के कुछ लक्षण निम्नानुसार है :-

  • सुनने की श्रमता कम होने के काफी लक्षण हो सकते है, जिनकी अगर सही देखभाल न की जाये तो ये परेशानी बढ़ सकती है और स्थाई बहरेपन का कारण बन सकती है|
  • अगर दो व्यक्ति सामान्य बातचीत कर रहे हो तो उसे सुनने में परेशानी होना |
  • फ़ोन पर बात करने में दिक्कत होना |
  • तेज आवाज में टीवी देखना या गाने सुनना |
  • बार-बार लोगो को उनकी बातें दोहराने के लिए कहना क्युकी आपको स्पष्ट रूप से सुनाई नहीं दे रहा है |
  • सामने वाले की बातें समझ न आने पर बात को अधूरा ही छोड़ देना |

बहरेपन का इलाज

बहरेपन का इलाज निम्नलिखित तरीको से किया जा सकता है :-

  • अगर कान की समस्या या बहरापन किसी प्रकार के इन्फेक्शन या संक्रमण की वजह से है तो उसे दवाइयों से ठीक किया जा सकता है |
  • अगर कान का बहरापन कान के पर्दें के फटने की वजह से हो तो उसे सर्जरी करके ठीक किया जा सकता है |
  • कान का मैल भी कभी-कभी सुनने की समस्या का कारण बन सकता है, तो कान के मैल को हटाकर भी बहरेपन का इलाज किया जा सकता है | कान के मैल को हटाने के घरेलू तरीकों के बारे में पढ़ें।
  • कान की मशीन का उपयोग करके भी कान की समस्या को या बहरेपन को कम किया जा सकता है |
  • अगर आपके कानों में बार-बार संक्रमण हो रहा है तो सर्जरी की आवश्यकता पड़ सकती है |